संन्यास के बाद इस दिग्गज की बल्लेबाजी देख बोर्ड हैरान, फिर से मिलेगा टीम से जुड़ने का मौका

 

इस साल बहुत से क्रिकेटरों ने सन्यास की घोषणा कि है। रायडू युवराज के साथ ही इंटरनेशनल से संन्यास ले चुके पाकिस्तानी बल्लेबाज शोएब मलिक शानदार फॉर्म में हैं। 37 साल के मलिक ग्लोबल टी-20 कनाडा लीग में अपनी जोरदार बल्लेबाजी से सुर्खियों में हैं. पिछले दिनों उन्होंने ऐसे छक्के जड़े कि खिड़की के शीशे चकनाचूर हो गए। शोएब मलिक इस पूरे टूर्नामेंट में अब तक एक बार भी आउट नहीं हुए हैं। उन्होंने चार पारियों में बिना आउट हुए 149 रन बनाए हैं।

इस बल्लेबाज की बैटिंग देखकर ऐसा नहीं लगता है। दिग्गज ऑलराउंडर ने कनाडा की जी टी-20 लीग में ऐसे शानदार स्ट्रोक्स लगाए कि लोग उनकी बैटिंग की तारीफ कर रहे हैं। शोएब मलिक ने वैंकूवर नाइट्स के लिए 26 गेंदों में नाबाद 46 रनों की पारी खेली। इस दौरान उन्होंने 4 चौके और 3 छक्के लगाए। वैंकूवर टीम की कप्तानी कर रहे मलिक के दो सिक्स तो ऐसे थे कि सभी हैरान रह गए।

Loading…

ब्रैंप्टन वुल्व्स के कप्तान शोएब मलिक ने वैंकुवर नाइट्स के खिलाफ अपने गगनचुंबी छक्कों से सीसीए सेंटर ग्राउंड के ड्रेसिंग रूम के शीशे तोड़ दिए। न्यूजीलैंड के स्पिनर ईश सोढ़ी ब्रैंप्टन वुल्फ्स की पारी का 13वां ओवर डाल रहे थे। शोएब मलिक ने इस ओवर की दूसरी गेंद पर कवर के ऊपर से 68 मीटर लंबा छक्का जड़ दिया। गेंद जाकर सीधे ड्रेसिंग रूम के शीशे की दीवार से टकराई और उसमें छेद हो गया।

इस मैच में शोएब मलिक ने एक और शानदार छक्का बहाव रियाज की गेंद पर जड़ा। इस बार भी गेंद ड्रेसिंग रूम की दीवार से जा टकराई और शीशे टूट गए। इस मैच में वैंकुवर नाइट्स के खिलाफ शोएब मलिक ने 26 गेंदों पर तूफानी 46 रन की पारी खेली। उन्होंने अपनी पारी में कुल 4 चौक और 3 छक्के जड़े। शोएब मल्लिक के इस प्रदर्शन से पाकिस्तानी बोर्ड भी हैरान है और बताया जा रहा है कि उन्हें फिर से टीम में जुड़ने का आग्रह किया जा सकता है।